मास्क का गैरकानूनी नियम लागू करने के पीछे का षड्यंत्र

भारत सरकार ने स्पष्ट किया है कि स्वस्थ लोगों को मास्क लगाने की जरूरत नहीं है केवल कोरोना मरीज को मिलने जाते वक्त ही मास्क लगाना चाहिए किसी भी परिस्थितियों में मास्क को 8 घंटे से ज्यादा नहीं लगाना चाहिए।

Link1:https://drive.google.com/file/d/16Q1BDKFRrfaoU9IhV5SsWSVTWKjo3C6W/view?usp=sharing

Link 2: https://drive.google.com/file/d/10f35twtB2sUl-RWtb2vgsJK70 YGAPfP/view?usp=sharing

कोरोना की दुसरी लहर और ज्यादा मौत होने मे मास्क का ज्यादा उपयोग? :-

हमारे श्वसोच्छवास द्वारा हम हवा मे से ऑक्सिजन’ लेते है और कार्बन डाय ऑक्साइड’ बाहर छोड़ते है।

किंतू जब मास्क पहना जाता है तो हमारी नाक मास्क द्वारा बंद होने की वजह से कार्बन डाय ऑक्साईड ही हमारे शरीर मे पुनः जाता है। देश की सारी जनता को एक साल से भी अधिक समय से मास्क पहनना आवश्यक करने का नियम बनाकर कोरोना से भी ज्यादा नुकसान पहुचाया गया, क्योकि इसी वजह से लोग ज्यादा कमजोर हो गये और उन्हे सांसो और फेफड़ो से संबंधीत कई गंभीर बिमारीयो ने घेर लिया। उनकी प्रतीकार शक्ती औसतन कम हो गई यही कारण है की कोरोना की दुसरी लहर मे ज्यादा संख्या मे ऑक्सिजन की जरुरत पड़ने लगी और ज्यादा संख्या मे मौते हो रही है।

इसके अलावा लोगो मे जो दुसरी सांसो की बिमारीया हुई है उसके दुष्परीणामो से और कई लोगो की जाने जानी वाली है।

आप सभी लोग आपके जनप्रतीनिधि जैसे विधायक (MLA), सांसद (MP), नगरसेवक (Corporator) आदि से कहकर मास्क के गलत निर्बंधो के खिलाफ अपनी आवाज उठाइये।

अगर आप केवल मुंबई की बात करोगे तो आप को मालुम होगा की महापालिका ने अपनी ही जनता से ५० करोड़ रुपये मास्क पहनने पर जुर्माना लगाकर वसूले है।

आप गौर किजीये की हमेशा मास्क पहननेवाले और सभी नियमो का पालन करनेवाले कई लोगो को कोरोना पॉजिटीव्ह पाया गया।

सबसे बड़ा उदाहरण तो आप महाराष्ट्र के पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे, युपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आदी लोगो का देख सकते हो।

स्वस्थ लोगो ने ज्यादा देर तक मास्क लगाना बड़ी गलती होगी। जैसा आपने देखा की हमारे देश के प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बॅनर्जी, कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी आदी लोगो ने कई दिनो से मास्क नही लगाया है और वे लोग बेखौफ लाखो जनता के बिच घुम रहे है।

मनसे नेता राज ठाकरे ने स्पष्ट कर दिया है की वे मास्क नही लगायेंगे।

लेकिन आप लोगो की गुलामी मानसिकता की वजह से आप पर मास्क ना पहनने पर जुर्माना लग रहा है और मास्क पहनने से आपकी तबीयत और बिगड़ रही है। इस अन्याय के खिलाफ हर किसी को आवाज उठानी चाहिए।

2. भारत सरकार ने यह भी स्पष्ट किया है कि ऐसा कोई वैज्ञानिक आधार या सबूत नहीं है कि मास्क लगाने से करोना बीमारी के वायरस से बचाव या प्रसार को रोकने में मदद मिलती है

Link:https://drive.google.com/file/d/16Q1BDKFRrfaoU9IhV5SsWSVTWKjo3C6W/view?usp=sharing

बल्कि हाल ही में दिए गए जवाब में स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि कोरोना बीमारी के वायरस बहुत सूक्ष्म और छोटे होते हैं और मास्क में से बहुत आसानी से जा सकते हैं ।

3. मास्क लगाकर अपनी जान धोके में मत डालिये समझदार बनिये आपको और आपके बच्चोको जबरदस्ती मास्क ना पहनाए बच्चे देश का भविष्य है उन्हें बचाए । अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए दिमाग का इस्तेमाल कीजिए ।

मेरा देश मेरी जिम्मेदारी,

मेरा परिवार मेरी जिम्मेदारी

Comments

Popular posts from this blog

८० हजार कोटींचा ‘कोरोना व्हॅक्सीन घोटाळा उघड’. लोकांचे जीव धोक्यात घालून त्यांच्या हत्येला व गरीबीला जबाबदार. आरोपी मंत्री व अधिकाऱ्यांना त्वरीत अटक करण्यासाठी न्यायालयात याचिका दाखल.

सरकार किसी व्यक्ति को उसके मर्जी के बगैर वैक्सीन नहीं दे सकती ! भारत सरकार के सॉलिसिटर जनरल का हाय कोर्ट में जवाब।

[ ब्रेकिंग ]न्यायिक हिरासत में एक दलित युवक की इच्छा के विरुद्ध तथा जबरदस्ती कोरोना का टीका लगाने पर डॉक्टरों और पुलिसों के खिलाफ आपराधिक कार्रवाई के लिए याचिका दायर पर मुंबई के सत्र न्यायलय ने आर्थर रोड जेल अधिकारियों को नोटिस जारी किया है।